पार्टनर को दुखी करने वाली चार बातें कभी भी ना करें

पार्टनर को दुखी करने वाली चार बातें
सेल्फिश बात का इस्तेमाल करना, शादी को जिंदगी की सबसे बड़ी गलती कहना, रिश्तेदारों को लेकर कुछ ग़लत कहना। यह सारी बातें आपके पार्टनर को बहुत दुख पहुंचात

केया आप मेरे एक सवाल का उत्तर दे सकते है?? कोन से रिश्ते में झगड़े नहीं होते हुए? एयसा कोहिभी रिश्ता नहीं हाय जिसमें झगड़े नहीं होते है।। तो भाई तुम किस खेत के मुली हो? अगर तुम इए सोचते हो कि, तुम्हारे सादी सुदा जिंदेगी में कोही भी किसी तरह की झगड़ा नहीं होगा। इए बात आगर तुम सोच रहे हो तो जनलो, तुम्हारी सोच गलत है। सिर्फ प्यार के बुनियाद पर ही रिश्ते नहीं टिकते है। रिश्ते को टिकाने के लिए झगड़ा होना भी जरूरी होता हाय। झगड़ा आपके रिश्ते को और मजबूत बना देता है।

पहले इए ही जान लेते है, झगड़ा करने से महॉबात केसे बढ़ता है।

गर्ल फ्रेंड बॉय फ्रेंड, हसबैंड वाइफ, मम्मी पापा, भाई बहिन, हर रिश्ते में प्यार बहोत गहरा होता है। आेर इस रिश्ते में झगड़े भी होते हैं। झगड़ा होना यह एक मामूली सी विषय है पर जो आदमी हजारों बार झगड़ा करने के बाद भी उसके लिए उतना ही मोहब्बत रखता है, जितना मोहब्बत झगड़ा करने से पहले रखता था।

अगर आप यही सोच को दिमाग में रखेंगे तो शायद कभी भी झगड़े के लिए आपका रिश्ता नहीं टूटेगा। शायद रिश्ता और भी गहरा हो जाए। अगर आप जानते हैं कि इस झगड़े का कारण आप ही है, तो आपको तुरंत उसके लिए माफी मांग लेनी चाहिए। अगर झगड़े का कारण दूसरे हो तो भी आपको नम्रता के सहित माफी मांग लेनी चाहिए और बाद में उसको समझाना चाहिए असल में क्या हुआ था। जब वह समझ जाएगा, तब वह खुद ही शर्मिंदा होकर आपसे माफी मांगने लगेगा, और आप दोनों के बीच प्यार और बढ़ता रहेगा।

पार्टनर को दुखी करने वाली चार बातें

अभी हाम आपको कुछ बाते बताएंगे जिसको आगर आप ध्यान में रखेंगे तो आपका रसिता नहीं टूटेगा।

  • सेल्फिश बात का इस्तेमाल ना करें।
  • शादी को जिंदगी की सबसे बड़ी गलती ना कहे।
  • आपकी जिंदगी के बिजी समय में से समय निकालकर अपने पार्टनर को समय दे।
  • मां बाप रिश्तेदारों को लेकर कुछ ना कहें।

हमने आपको रिश्ते के बारे में, झगड़े के बारे में, प्यार के बारे में कुछ बाते बताए हैं। पर सच बात तो यही है, जब आपलोग झगड़ा करते है तब आपके दिमागी हालत एक बच्चे की तरह हो जाती है। जहा पर आप अपना आपा खो बायेठते हाय। आप केया कहरेहे है इसका ध्यान ही अप्लोगो को नहीं रहता है।

सेल्फिश बात का इस्तेमाल ना करें।

शादी के बाद की जिंदगी थोड़ा अलग होता है। अगर आप लड़के है तो आपको बाहर का काम करना पड़ता है। अगर आप वाइफ हाय तो आपको घर को सम्हालना होता है। इस बीच पार्टनर में से दोनोही बिजी हो जाते है।  आेर एक दूसरे के लिए टाइम नहीं निकाल पाते हैं। एक जन अगर टाइम निकले तो दूसरे जन का टाइम नहीं होता हाय। आेर रही चीज दूसरे के साथ भी होता है। इसी बीच आप एकदुसरे को सेलफिश कहने लगते है। इए सेलफिश वर्ड आपके जिंदगी में भूचाल ला देता है। आपको इस बात का भी ध्यान रखना है जब आप लोग झगड़ते हैं तो आपको सेलफिश जैसे वर्ड को इस्तेमाल नहीं करना है।

शादी को जिंदगी की सबसे बड़ी गलती ना कहे।

आप जिससे प्यार करते हैं, अगर उसी से ही आपके शादी हो जाए तो। आप कहेंगे हमारे किस्मत अच्छे हैं जो आप जैसे पार्टनर हमें जिंदगी में मिले। पर शादी के बाद जब आप लोग झगड़ते हैं तब आपको इस बात का ध्यान नहीं रहता है कि आपने शादी के पहले अपने पार्टनर से क्या कहा था। और झगड़ते वक्त आप उनसे यह कह बैठते हैं की उनसे शादी करना आपकी जिंदगी का सबसे बड़ी भूल है।

पूरी जिंदगी अगर आप इस लाइन को एक बार भी अपने पार्टनर से कहे हैं। तो आप यह समझ लीजिए आप दोनों के बीच का जो भी प्यार था इतने दिनों तक उसका खत्म वही सही शुरू होता है।

मेरी माने तो शादी एक ऐसा जिम्मेदारी है जिसको आपको अंत तक निभाना है। यह एक प्राकृतिक नियमों से जुड़े संबंध है। और इस प्राकृतिक नियम में आपकी वजह से थोड़ी सी भी दरार आ जाए तो आप समझ लीजिए यह सुंदर प्राकृतिक नियम आपके लिए नहीं है।

आपकी जिंदगी के बिजी समय में से समय निकालकर अपने पार्टनर को समय दे।

शादी के बाद हर हस्बैंड अपनी जॉब को ज्यादा प्रायरिटी देता है। जॉब को प्रायोरिटी देने के पीछे भी उनका अलग मकसद होता है। क्योंकि उन लोग जानते हैं अगर परिवार को खुश रखना है तो काम करना जरूरी है। और पैसा कमाना भी जरूरी है ताकि उनकी परिवार और खुशहाल भरी जिंदगी बिता सकें।

पर काम करते करते, यह लोग यह नहीं देखते हैं जिसके लिए वह इतनी कड़ी मेहनत कर रहे हैं वह खुश नहीं है। क्योंकि आपका परिवार चाहता है आपके साथ समय बिताना। अगर आप दिन के 24 घंटे के 24 घंटे आप काम में व्यस्त रहेंगे तो आप अपने परिवार को समय नहीं दे पाएंगे। और समय देना एक महत्वपूर्ण चीज है जो रिश्ते को और संभाल के रखता है।

मां बाप रिश्तेदारों को लेकर कुछ ना कहें।

हमने दूसरे पॉइंट में ही आपको बताया कि आप जब झगड़ते हैं तब आपको ध्यान नहीं रहता है। कि आप उनसे क्या बातें कह देते हैं कुछ बातें ऐसे हो जाते हैं जो दूसरे को बहुत ठेस पहुंचाता है। और यहीं से ही एक प्यार का, एक रिश्ते का खत्म होना शुरू हो जाता है।

जब आप झगड़ते हैं तब आप को ध्यान में रखना है कि आपको कभी भी अपने पार्टनर के परिवार को लेकर कुछ नहीं कहना है। हर किसी का परिवार उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। उनके मां बाप, भाई बहन, सभी उनके लिए बहुत मायने रखते हैं। आपके पार्टनर जिस जिससे प्यार करते हैं उनके बारे में आप ध्यान से कभी भी कुछ खराब बात ना करें।

उप संहार

अगर आप इन सब बातों का अच्छी तरह से ध्यान रखते हैं। तो शायद आपके बीच झगड़े हो पर आपके रिश्ते ना टूटे। भगवान ने हर जोड़ी को बहुत फुर्सत से बनाया है। अगर आप उनके इस काम में पानी फेंक देंगे तो हर कोई कुंवारा रह जाएगा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *